पं. तिलक राज शर्मा स्मृति न्यास,न्यूयॉर्क द्वारा आयोजित सम्मान समारोह संपन्न ।







विगत दिनों मातृभाषा दिवस पर आयोजित "पंडित तिलक राज शर्मा स्मृति सम्मान समारोह" का सफल आयोजन केशव पुरम, दिल्ली स्थित "त्यागी पब्लिक स्कूल" के सभागार में संपन्न हुआ ।  इस भव्य समारोह में विभिन्न क्षेत्रों में विशिष्ट योगदान देने वाले अनेक व्यक्तित्वों को उनके सामाजिक अवदान के लिए सम्मानित किया गया।  

"पंडित तिलक राज शर्मा शिखर सम्मान" इस वर्ष 7 लोगों को प्रदान किया गया जिसमें शॉल, स्मृति चिन्ह, प्रशस्ति पत्र के साथ-साथ  ₹11000/- की राशि भी प्रदान की गई ।
न्यास के अध्यक्ष समाजसेवी एवं साहित्य प्रेमी इंद्रजीत शर्मा के निर्देशन और संयोजन में  07 वर्षों से निरंतर इस सम्मान समारोह का आयोजन किया जा रहा है । 

सम्मान समारोह  की अध्यक्षता सुप्रसिद्ध वरिष्ठ साहित्यकार-व्यंग्यकार डॉ. हरीश नवल ने की तथा मुख्य वक्ता के रूप में वरिष्ठ पत्रकार हरेंद्र प्रताप उपस्थित थे।

समरोह में विशिष्ट अतिथि के रूप में साहित्यकार-कवि तथा "उद्भव" संस्था के अध्यक्ष डॉ. विवेक गौतम एवं लेखक-समाजसेवी प्रेम भारद्वाज 'ज्ञानभिक्षु' मंच पर उपस्थित थे। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि एवं संचालन का दोहरा दायित्व "गगनांचल" के संपादक-कवि आशीष कंधवे ने निभाया ।

इस वर्ष शिखर सम्मान से विभूषित होने वाले व्यक्तित्व थे - स्वामी आर्यवेश, रामा विशेषज्ञ डॉ.राजेश श्रीवास्तव, भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद में अधिकारी सुलक्षणा भाटिया, आर.एल वत्स,  लेखिका एवं हृदयरोग विशेषज्ञ डॉ.नीलम वर्मा, हास्य कवि मंजीत सिंह तथा लोक प्रशासन के लिए भारतीय राजस्व सेवा के वरिष्ठ अधिकारी कुमार अविकल मनु। इसी क्रम में "श्रीराम वर्मा स्मृति सम्मान" त्रिनगर के पूर्व निगम पार्षद एवं समाजसेवी सुरेश गर्ग को प्रदान किया गया ।

साहित्य, संस्कृति, भाषा, चिकित्सा तथा समाज के अन्य क्षेत्रों में अपना अतुलनीय योगदान देने वाले अनेक महत्वपूर्ण लोगों को भी सम्मानित किया गया। जिनमें मारवाह स्टूडियो के प्रसारण निदेशक एवं पत्रकार सुशील भारती, सुप्रसिद्ध हिंदीसेवी एवं लेखिका डॉ. नूतन पांडेय, साहित्य अमृत पत्रिका के  सह-संपादक कवि डॉ. हेमंत कुकरेती, हंसराज कॉलेज में सहायक प्राध्यापक विजय मिश्र, युवा कवयित्री कोमल, युवा पत्रकार कुमारी मंजरी, प्रसिद्ध समाजसेवी मोहन लाल गौड़, पर्यटन के क्षेत्र में अग्रणी  राजन सहगल, फोटोग्राफी के लिए विजय कुमार लांबा, लोक साहित्य के क्षेत्र में आलोक सोनी, योग एवं अध्यात्म के लिए अमरजीत आर्य, चित्रकला के क्षेत्र में अजय समीर, कविता के क्षेत्र में मोनिता मलिक, रितु कुलश्रेष्ठ, फिल्म पटकथा लेखन के लिए मीना डाबर, हरभजन सिंह, समाज सेवा के क्षेत्र में बलबीर आचार्य, विनोद पांडे, आर.एल वर्मा, वीरेंद्र चौधरी, सरिता जैन, गोविंदराम शर्मा, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ आंदोलन की दो बहने बहन प्रवेश आर्य और बहन पूनम आर्य प्रमुख थे ।
कार्यक्रम में समाज के अनेक गणमान्य  लोग उपस्थित थे जिनमें विदेशों में हिंदी के प्रचार-प्रसार में रत डाॅ. दीपक पांडेय,प्रसिद्ध चित्रकार हर्षवर्धन आर्य, समाजसेवी हरिंदर शेरावत और नीलांजन बैनर्जी आदि प्रमुख थे ।
टिप्पणियां