एनटीपीसी ने आर्चरी एसोसिएशन ऑफ इंडिया के साथ साझेदारी की

 





41 वीं एनटीपीसी जूनियर राष्ट्रीय तीरंदाजी चैम्पियनशिप के मुकाबले देहरादून में जारी
.भारत की सबसे बड़ी एकीकृत ऊर्जा कंपनी एनटीपीसी लिमिटेड ने अपनी कॉर्पोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी (सीएसआर) के तहत आर्चरी एसोसिएशन ऑफ इंडिया के साथ भागीदारी की है। इस साझेदारी के तहत 41 वीं एनटीपीसी जूनियर नेशनल तीरंदाजी चैम्पियनशिप वर्तमान में सर्वे आॅफ इंडिया मैदान, देहरादून, उत्तराखंड में चल रही है। उत्तराखंड आर्चरी एसोसिएशन द्वारा आयोजित इस वार्षिक प्रतियोगिता की शुरुआत 7 मार्च 2021 को हुई और इसका समापन 16 मार्च 2021 को होगा। एनटीपीसी ने कहा है कि कंपनी अपनी कॉर्पोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी (सीएसआर) को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है और कंपनी देशभर में प्रतिभावान युवाओं को आगे बढ़ाने में हरसंभव सहायता करेगी।

आर्चरी एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एएआई) के साथ एनटीपीसी की साझेदारी का उद्देश्य तीरंदाजी में छिपी प्रतिभाओं को सामने लाना और उनकी क्षमता को बढ़ावा देना है। एनटीपीसी जूनियर नेशनल तीरंदाजी चैम्पियनशिप जैसी पहल के माध्यम से एनटीपीसी का लक्ष्य भारत के युवाओं को अपनी प्रतिभा दिखाने और भारत की प्रतिष्ठा को ऊंचा करने के लिए एक प्लेटफाॅर्म देना है।

यह साझेदारी भारतीय तीरंदाजी की दुनिया में अब तक की सबसे बड़ी भागीदारी है और साथ ही देश में खेलों के उत्सव की दिशा में भी एक और कदम के रूप में प्रतिष्ठित है।

64,880 मेगावाट की कुल स्थापित क्षमता के साथ, एनटीपीसी समूह के पास 29 नवीकरणीय परियोजनाओं सहित 71 पावर स्टेशन हैं। समूह के पास निर्माणाधीन 20 गीगावॉट क्षमता है, जिसमें 5 गीगावॉट नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाएं शामिल हैं। पर्यावरण के अनुकूल ऊर्जा परियोजनाओं के माध्यम से किफायती कीमतों पर बिजली की निर्बाध आपूर्ति एनटीपीसी की पहचान रही है।
टिप्पणियां