डा. आनंद कुमार अध्यक्ष राष्ट्र निर्माण पार्टी एवं पूर्व वरिष्ठ IPS अधिकारी ने हनुमान मंदिर तोड़े जाने के विरोध में दी गिरफ्तारी





राष्ट्र निर्माण पार्टी के अध्यक्ष एवं पूर्व वरिष्ठ पुलिस अधिकारी द्वारा अपने सैकड़ों साथियों/कार्यकर्ताओं सहित चांदनी चैक स्थित हनुमान मंदिर तोड़े जाने के विरोध में गिरफ्तारी दी। इनके साथ श्री धर्मपाल आर्य अध्यक्ष आर्य प्रतिनिधि सभा दिल्ली, प्रसिद्ध वैदिक विद्वान स्वामी तपस्वी जीगुरू गोरखनाथ मंदिर के प्रसिद्ध संन्यासी श्री ओमनाथ जी आदि ने भी गिरफ्तारी दी।

इस अवसर पर पत्रकारों से बात करते हुए डा. आनंद कुमार ने चांदनी चैक स्थित प्राचीन हनुमान मंदिर को तोड़ने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल को जिम्मेदार बताते हुए उनकी कड़ी निंदा की तथा इस बात पर क्षोभ व्यक्त किया कि जो दिल्ली विधानसभा चुनावों में हनुमान चालीसा सुनाते घूम रहे थे, हनुमान जी के नाम पर वोट कबाड़ रहे थे,  उन्होंने सत्ता में आने के बाद सबसे पहले हनुमान मंदिर पर ही हथौड़ा चला दिया। यह तो हमने सुना था कि श्री अरविंद केजरीवाल ने अपने गुरू अन्ना हजारे को धोखा दिया। यह भी सुना था कि उन्होंने अपने बच्चों की झूठी कसम खाकर उनको भी धोखा दिया। वो भगवान को भी धोखा देंगेयह पहली बार पता चला।

डा. आनंद कुमार, जो IPS अधिकारी के रूप में अपनी सेवाएं केंद्र सरकार में दे चुके हैं तथा आज दिनांक 10-01-2021 को राष्ट्र निर्माण पार्टी द्वारा चांदनी चैक में आयोजित विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे थे,  ने मांग की कि दिल्ली सरकार वहीं पर पुनः भव्य मंदिर का निर्माण कराए। क्योंकि वहां के लोगों की आस्था हनुमान मंदिर से बहुत गहरे से जुड़ी हुई हैं। आनंद कुमार ने कहा कि मंदिर निर्माण को लेकर उनकी पार्टी चरणबद्ध तरीके से लंबी लड़ाई लड़ेगी। बहुत जल्द राष्ट्र निर्माण पार्टी दिल्ली के चैराहो पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के पुतले फूकेगीमशाल जुलूस निकालेगी और फिर बड़ी रैली आयोजित करेगी। जिसमें हिंदू समाज के सभी साधु-संत भाग लेंगे। यदि फिर भी सरकार नहीं मानती है तो जेल भरो आंदोलन चलाया जाएगा।

इस अवसर पर श्री धर्मपाल आर्य ने कहा कि यह बड़े दुर्भाग्य की बात है कि हिंदू समाज की आस्था के केंद्र हिंदू मंदिरों को तोड़ने में सरकार को कोई  संकोच नहीं होता पर अन्य समाजों के धर्मस्थल जो बीचोंबीच सड़कों पर बने हुए हैं उनसे उन्हें कोई समस्या नहीं होती। उन्होंने हिंदू समाज के सभी धर्मगुरूओं,  महंतों,  नेताओं से अपील की कि वे इस प्रकार की एकतरफा कार्यवाही जो हिंदू धर्म को अपमानित करने के लिए होती हैका एकजुट होकर विरोध करें। उन्होंने कहा कि ऐसे किसी भी अभियान में आर्य समाज बढ़-चढ़कर भाग लेगा।

इस कार्यक्रम में प्रसिद्ध संन्यासी स्वामी सौम्यानंद जी,  आचार्य आनंद मूर्ति जी,  श्री बृहस्पति आर्य  मंत्री आर्यवीर दल , विम्मी अरोड़ा दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष महिला निर्माण मोर्चा,  श्री दानवीर विद्यालंकार अध्यक्ष समयोग फाउंडेशन, अविनीश परिहार एवं गौरव शर्मा युवा निर्माण वाहिनी, हिमांशु बाली सूचना एवं प्रौद्योगिकी प्रमुख राष्ट्र निर्माण पार्टी, योगी जयनाथ आदि ने केजरीवाल सरकार की निंदा करते हुए मंदिर की पुर्नस्थापना की मांग की। सभी प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने अपनी अभिरक्षा में लालकिला से संलग्न पुलिस पार्क परिसर में घंटों तक रखा।

टिप्पणियां