जैन अल्पसंख्यक महासंघ का कार्य प्रशंसनीय - राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित



राष्ट्रीय जन जागरण अभियान का प्रारंभ

अखिल भारतीय जैन अल्पसंख्यक महासंघ'(AIJMF) द्वारा अपने 7 वर्ष की पूर्णाहुति निमित्त 26 जनवरी से 14 फरवरी तक आयोजित सवर्ण आरक्षण एवं अल्पसंख्यक योजनाओं के जन जागरण हेतु राष्ट्रीय अभियान का प्रारंभ एवं इसके बोधचिन्ह का अनावरण तमिलनाडु के राज्यपाल महामहिम बनवारीलालजी पुरोहित के कर कमलों द्वारा किया गया!
राज भवन चेन्नई में संपन्न समारोह के अवसर पर राष्ट्रीय अध्यक्ष ललित गांधी ने 'अखिल भारतीय जैन अल्पसंख्यक महासंघ' के कार्यों की जानकारी प्रस्तुत की! विशेष रूप से जैन समाज के छात्रों को शिक्षा हेतु स्कॉलरशिप, युवा एवं महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने हेतु विभिन्न योजनाओं का संचालन, जैन समाज के धर्म, एवं तीर्थ स्थानों की रक्षा एवं समाज विकास की विभिन्न योजनाओं हेतु महासंघ द्वारा संचालित विभिन्न उपक्रमों की जानकारी महामहिम को प्रस्तुत की!
तथा इस राष्ट्रीय अभियान के आयोजन का उद्देश्य विदित करते हुए ललित गांधी ने कहा कि सवर्ण आरक्षण के माध्यम से आर्थिक आय के आधार पर खुले प्रवर्ग की उच्च जातियों के छात्रों को शिक्षा हेतु 10% का मिला हुआ आरक्षण एवं सरकारी नौकरियों में मिला हुआ 10% का आरक्षण का लाभ जैन समाज के छात्रों एवं युवाओं को दिलवाने हेतु जनजागरण आवश्यक है! तथा अल्पसंख्यक विभागों के विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी समाज के अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचे इसी उद्देश्य से महासंघ द्वारा इस राष्ट्रीय अभियान का आयोजन किया गया है! जिसे भारत के विभिन्न भागों में 500 से अधिक जगहों पर विशेष शिविरों के माध्यम से संचालित किया जाएगा!
इस अवसर पर फेडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललित गांधी के साथ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. किशनचंद चोरड़िया, तमिलनाडु के कार्याध्यक्ष सज्जनराजजी मेहता, केसरवाडी जैन तीर्थ चेन्नई के महामंत्री शांतिलालजी जैन, फेडरेशन के चेन्नई महिला विभाग की प्रमुख डॉ ललिता जैन, आदि उपस्थित थे! महामहिम राज्यपाल बनवारीलालजी पुरोहित ने 'अखिल भारतीय जैन अल्पसंख्यक महासंघ' द्वारा पिछले 7 वर्षों में संपादित कार्यों की सराहना की! एवं इस अभियान हेतु शुभकामनाएं प्रेषित की!
टिप्पणियां