बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र, गोवा अंचल द्वारा व्यापक एमएसएमई आउटरीच कार्यक्रम का आयोजन

 

पणजी शाखा में TReDS प्लेटफॉर्म पर एमएसएमई की व्यापार प्राप्तियों में ई-डिस्काउंटिंग के लिए एक समर्पित सेल का निर्माण



गोवा अंचल ने पणजी के होटल ताज विवांता में एमएसएमई और अन्य व्यावसायिक निकायों को एक साथ जोड़ने के लिए व्यापक "एमएसएमई आउटरीच कार्यक्रम" का आयोजन किया। यह कार्यक्रम ऐसे समय पर आयोजित किया गया है जब कोविड-19 महामारी के चलते  व्यावसायिक गतिविधियों के मंद होने के कारण यह क्षेत्र कठिनाईयों का सामना कर रहा है।

कार्यक्रम का उद्घाटन गोवा राज्य के माननीय मुख्यमंत्री डॉ. प्रमोद सावंत ने किया, इस अवसर पर बैंक ऑफ महाराष्ट्र के कार्यपालक निदेशक हेमन्त टम्टा और गोवा अंचल की अंचल प्रबंधक सुश्री नर्मदा एस. सावंत भी उपस्थिति थीं।

अपने उद्घाटन भाषण में, माननीय मुख्यमंत्री ने देश के आर्थिक विकास में एमएसएमई क्षेत्र की भूमिका पर जोर दिया। कोविड-19 महामारी के चलते एमएसएमई की प्राप्तियों के भुगतान में विलंब पर चिंता व्यक्त करते हुए, उन्होंने बैंक ऑफ महाराष्ट्र की सराहना की, जो एमएसएमई को शिक्षित करने के लिए इस तरह के गेम-चेंजिंग प्रयासों का आयोजन कर रहा है, ताकि भारत सरकार, भारतीय रिज़र्व बैंक और बैंक ऑफ महाराष्ट्र द्वारा शुरू किए गए विभिन्न उपायों का लाभ एमएसएमई को मिल सके। उन्होंने व्यापार प्राप्तियां इलेक्ट्रॉनिक छूट प्रणाली (TReDS) के अंतर्गत बिलों में छूट देकर गोवा सरकार के कॉंट्रेक्टरों और विक्रेताओं के भुगतान में विलंब के मुद्दे का निपटान करने हेतु बेहतर रूप से मध्यस्थता करने पर भी बैंक ऑफ महाराष्ट्र की प्रशंसा की।

कार्यक्रम के सहभागियों को संबोधित करते हुए, बैंक ऑफ महाराष्ट्र के कार्यपालक निदेशक हेमन्त टम्टा ने एमएसएमई क्षेत्र को अर्थव्यवस्था की रीढ़ बताते हुए राष्ट्र के आर्थिक विकास में एमएसएमई के योगदान को रेखांकित किया। उन्होंने एमएसएमई के संचालन और सुदृढ़ीकरण के लिए भारत सरकार और बैंक ऑफ महाराष्ट्र की विशेष पहलों पर भी अपने विचार व्यक्त किए। उन्होंने बताया कि एमएसएमई क्षेत्र को पर्याप्त रूप से और समय पर ऋण प्रवाह प्रदान करना बैंक ऑफ महाराष्ट्र के लिए हमेशा प्राथमिकता का क्षेत्र रहा है।

उन्होंने कहा कि एमएसएमई के साथ सीधा संवाद करने और उन्हें बैंक के निरंतर सहयोग का आश्वासन देने के लिए, यह आउटरीच कार्यक्रम आयोजित किया गया है। एमएसएमई क्षेत्र को सहायता प्रदान करने और प्राप्तियों के विलंब से भुगतान की उनकी समस्या को हल करने के लिए, श्री हेमन्त टम्टा ने TReDS प्लेटफॉर्म पर "एमएसएमई की व्यापार प्राप्तियां" की डिस्काउंटिंग के लिए अपनी पणजी शाखा में एक समर्पित सेल का उद्घाटन किया। अपनी व्यापार प्राप्तियों की डिस्काउंटिंग के लिए इस प्लेटफॉर्म का उपयोग करने के लिए एमएसएमई को तकनीकी सहायता प्रदान करने की भी बैंक ने व्यवस्था की है।

बड़ी संख्या में सहभागिता के साथ आयोजित कार्यक्रम का समापन गोवा अंचल के उप अंचल प्रबंधक आनंद शंकर द्वारा प्रस्तावित धन्यवाद ज्ञापन के साथ हुआ।

टिप्पणियां