दिल्ली के बुजुर्गों को करतारपुर साहिब के दर्शन कराएगी केजरीवाल सरकार

दिल्ली के बुजुर्गों को करतारपुर साहिब के दर्शन कराएगी केजरीवाल सरकार


- मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के तहत होगी यात्रा; किसी भी तरह की फीस नहीं देनी होंगी: CM 


- श्री गुरु नानक देव जी के 550वे प्रकाश पर्व के अवसर पर ऐतिहासिक फैसला 



मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के तहत दिल्ली सरकार गुरुद्वारा करतारपुर साहिब की यात्रा भी कराएगी। यात्रा पर आने वाले सभी खर्च का वहन दिल्ली सरकार करेगी। इसके लिए दिल्ली-अमृतसर-वाघा बॉर्डर-आनंदपुर साहिब रूट को विस्तार दिया गया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया कि कैबिनेट से मंजूरी के बाद प्रस्ताव की बारीकियों पर काम करने के लिए इसे राजस्व विभाग के पास भेजा गया है। जिससे जल्द से जल्द पंजीकरण प्रारंभ हो सके। 


मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, श्री गुरु नानक देव जी के 550वे प्रकाश पर्व के अवसर पर दिल्ली सरकार ने एक ऐतिहासिक फैसला लिया है। मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के तहत अब दिल्ली के बुजुर्गों को करतारपुर साहिब के भी दर्शन कराए जाएंगे। इस यात्रा में लगनेवाली हर तरह की फीस दिल्ली सरकार देगी। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा है की हर तीर्थ यात्री के साथ एक जवान व्यक्ति अटेंडेंट के रूप में करतारपुर भी जा सकेगा।


दिल्ली सरकार के कैबिनेट ने दिल्ली-अमृतसर-वाघा बॉर्डर-श्री आनंदपुर साहिब को करतारपुर पाकिस्तान तक विस्तार कर दिया है। इस योजना के तहत जो भी इस रूट पर जाएगा, वह अब करतारपुर साहेब के दर्शन भी करेंगे।कोई भी पैसा भारत या पाकिस्तान सरकार को देना होगा तो वह दिल्ली सरकार देगी। करतारपुर कोरिडोर को लेकर भारत और पाकिस्तान सरकार के बीच कुछ चीजें तय होनी है। कैबिनेट ने रूट विस्तार को मंजूरी देकर आगे की कार्रवाई के लिए राजस्व विभाग को भेज दिया है, जहां से सभी चीजें फाइनल होने के बाद पंजीकरण खोल दिया जाएगा। जिससे 550 प्रकाश पर्व के अवसर पर लोगों को करतारपुर के दर्शन हो सके।  


गुरु नानक देव जी के 550वे प्रकाश पर्व पर दिल्ली सरकार ऑड ईवन से देगी छूट 


मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरू पर्व को देखते हुए 11 व 12 नवंबर को आँड ईवन से छूट देनी की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि श्री गुरूनानक देव जी का 550 वांं प्रकाश पर्व मनाया जा रहा है। 12 को गुरू पर्व है, 11 को नगर कीर्तन निकल जाएगा। इस दौरान काफी सिख संगठनों ने मुझसे मुलाकात की। सिख समुदाय के लाखों लोग इसमें शामिल होंगे। उन्हें कोई परेशानी न हो, इसके लिए 11 व 12 नवंबर को आँड ईवन से छूट मिलेगी। कई सिख संगठन की मांग के आधार पर निर्णय लिया गया है। 


श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर दिल्ली में 11 व 12 नवंबर को ऑड ईवन से छूट देने के संबंध में सिखों का एक प्रतिनिधिमंडल तिलक नगर से विधायक श्री जरनैल सिंह के साथ परिवहन मंत्री श्री कैलाश गहलोत से मिला। श्री गुरु नानक देव जी का 550 वा प्रकाश पर्व पूरी दुनिया में बहुत बड़े स्तर पर मनाया जाएगा। दिल्ली में रहनेवाले सिख सुमदाय के लोगों के लिए भी ये एक ऐतिहासिक और महत्त्वपूर्ण मौका है। ११ नवंबर को पूरे श्हर में भव्य नगर कीर्तन की तैयारियां हो रही है जिसमें लाखों श्रद्धालुओं के हिस्सा लेने की संभावना है. इस मौके पर ११ और १२ नवंबर को लाखों लोग पूरे शहर के अलग-अलग गुरुद्वारों में भी जाएंगे।


रूट, जिस पर दिल्ली सरकार करा रही तीर्थयात्रा


दिल्ली-अमृतसर-वाघा बॉर्डर-आनंदपुर साहिब-दिल्ली (3 दिन / 2 रात)


दिल्ली-वैष्णो देवी-जम्मू-दिल्ली (4दिन/ 3रात)


दिल्ली-मथुरा-वृंदावन-आगरा-फतेहपुर सीकरी-दिल्ली (3 दिन/ 2 रात)


दिल्ली-हरिद्वार-ऋषिकेश-नीलकंठ-दिल्ली (4 दिन / 3 रात)


दिल्ली-अजमेर-पुष्कर-दिल्ली (3 दिन/ 2 रात)


दिल्ली-रामेश्वरम-मदुरै-दिल्ली (8दिन/ 7रात)


दिल्ली - तिरुपति बालाजी - दिल्ली (7 दिन / 6 रात)


दिल्ली-जगन्नाथपुरी-कोणार्क-भुवनेश्वर-दिल्ली (7 दिन / 6 रात)


दिल्ली-द्वारकाधीश-नागेश्वर-सोमनाथ-दिल्ली (7 दिन/ 6  रात)


दिल्ली-शिरडी-शनि शिंगणापुर-दिल्ली (6 दिन / 5 रात)


दिल्ली-उज्जैन-ओंकारेश्वर-दिल्ली (4 दिन/ 3 रात)


दिल्ली-बोधगया-सारनाथ (5 दिन/ 4 रात)


दिल्ली मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के लिए पात्रता 


- बुजुर्ग व्यक्ति दिल्ली का निवासी होना चाहिए।


- बुजुर्ग की आयु 60 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए।


- किसी सरकारी सेवा या स्वयं के बिजनेस का न कर रहा हो।


- बुजुर्ग की आय  रूपए 3 लाख वार्षिक से कम होना चाहिए।


- हर साल प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र से चयनित 1100 बुजुर्ग इस योजना के तहत तीर्थ यात्रा के लिए पात्र होंगे।


योजना के तहत तीर्थ यात्रा के लिए सुविधाएँ :


- योजना के तहत चयनित बुजुर्गों को 3 दिन 2 रात की यात्रा मुफ्त में कराई जा रही है।


- यात्रा के लिए चयनित बुजुर्गों के लिए यात्रा के दौरान रहने और भोजन की व्यवस्था दिल्ली सरकार करती है।


- बुजुर्ग अपने साथ देख -भाल के लिए 18 वर्ष से अधिक का कोई एक महिला/ पुरुष ले जा सकते हैं सरकार उस व्यक्ति के यात्रा /रहने एवं खाने का खर्च उठाएगी।


- प्रत्येक मार्ग की यात्रा 3 दिन और 2 रात की होती है।


- यात्रा के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होता है। इसके बाद बुजुर्ग आवेदकों का चयन लाटरी के आधार पर किया जाता है।


- दिल्ली मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना का लाभ लेने के लिए आपको दिल्ली गवेर्मेंट के तीर्थ यात्रा विकास समिति वेब पोर्टल पर क्लिक करना होता है। 


- इस पोर्टल के माध्यम से आपको आवेदन फॉर्म भरना होगा।


टिप्पणियां