अनंत काल के गलियारे में एक बायोग्राफी


संदीप मारवाह एक ऐसी शख्सियत है जिनको जितना पढ़ा और समझा जाए उतना ही कम है और फ़िल्मी एजुकेशन के बारे में कहा जाए तो उनका संस्थान टॉप 5 में आता है और उनका दिमागी स्तर इतना ऊँचा है की उनको किसी भी विषय के बारे में किसी भी व्यक्ति विशेष के बारे में वो बिना रुके बोल सकते है यहाँ तक की उनको हर आंकड़ा मुंहज़ुबानी याद रहता है ऐसा इसीलिए कहा जा रहा है की हाल ही में उनकी बायोग्राफी ' ए वॉल्क इन द कॉरिडोर ऑफ़ एटर्निटी' लिखी गयी है जिसकी फर्स्ट कॉपी पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को प्रेजेंट की गयी जिसकी लेखिका है श्रेया कत्याल। इसमें उनके जीवन की अभी तक के कई अनछुए पहलु है। 


टिप्पणियां